सोमवार, 10 जुलाई 2017

आखिरकार दार्जिलिंग को कश्मीर बनाने पर तुले क्यों है देश चलाने वाले लोग?

#चीन से निबटने के लिए #सेना और #सरकार दोनों तैयार हैं। यह कैसी तैयारी है कि #सिक्किम का मुख्यमंत्री पूछने लगे हैं कि क्या #भारत में सिक्किम का विलय चीन और बंगाल के बीच सैंडविच बनने के लिए हुआ है?

पवन चामलिंग के इस बयान का मौजूदा हालात के मुताबिक बहुत खतरनाक मतलब है क्योंकि चीन ने सिक्किम को भी #कश्मीर बना देने की धमकी दी है। .....Read More

आखिरकार दार्जिलिंग को कश्मीर बनाने पर तुले क्यों है देश चलाने वाले लोग?

सोमवार, 3 जुलाई 2017

वे मुसोलिनी के दीवाने थे. हिटलर उनकी धड़कनों का राजा था. उन्हें तो गांधीजी को मारना ही था.

वे मुसोलिनी के दीवाने थे. हिटलर उनकी धड़कनों का राजा था. उन्हें तो गांधीजी को मारना ही था.: उन्हें तो गांधीजी को मारना ही था. उनके सामने सवाल एक व्यक्ति का नहीं एक विचारधारा का था. उन्हें भारत की मेलजोल की संस्कृति से नफ़रत थी. उन्हें गंगा जमनी हिन्दुस्तानी तहजीब से नफ़रत थी.........Read moreon

वे मुसोलिनी के दीवाने थे. हिटलर उनकी धड़कनों का राजा था. उन्हें तो गांधीजी को मारना ही था.

मंगलवार, 20 जून 2017

संविधान नहीं नवउदारवाद का अभिरक्षक राष्ट्रपति

संविधान नहीं नवउदारवाद का अभिरक्षक राष्ट्रपति: राष्ट्रपति का चुनाव भी उसी अंधी दौड़ की भेंट चढ़ चुका है। राष्ट्रपति संविधान का अभिरक्षक कहलाता है, लेकिन पूरी चर्चा में वह नवउदारवाद के अभिरक्षक के रूप में सामने आ रहा है।....सीधे समाजवादी नाम वाली समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह की भूमिका को देख कर लगता नहीं कि जिस लोहिया को वे मायावती के अंबेडकर की काट में इस्तेमाल करते हैं, उस महान समाजवादी चिंतक की एक पंक्ति भी उन्होंने पढ़ी है। .... पढ़ें व अपना मत दें..... http://www.hastakshep.com/hindiopinion/president-custodian-of-neo-liberalism-not-constitution-14457

RSS को सरकारी सुविधाओं पर नफरत के बीज बोने की इजाजत क्यों दी जानी चाहिये: मायावती

RSS को सरकारी सुविधाओं पर नफरत के बीज बोने की इजाजत क्यों दी जानी चाहिये: मायावती: पेट भरे लोगों पर ही मोदी सरकार का ध्यान.... योग जैसे कार्यक्रमों में धन और समय खर्च करना सरकार का काम नहीं : मायावती

.......Read More on RSS को सरकारी सुविधाओं पर नफरत के बीज बोने की इजाजत क्यों दी जानी चाहिये: मायावती:

रविवार, 26 मार्च 2017

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है: छोटे स्लाटर हाउस बंद होंगे, लेकिन बीफ की बड़ी कंपनियां अपना काम करती रहेंगी। यानी छोटे कारोबारियों की छुट्टी और कारपोरेट मुनाफा कमाएंगे।जब से भाजपा की केंद्र में सरकार बनी है बीफ निर्यात डेढ़ गुना हो..

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है .....छोटे स्लाटर हाउस तो बंद होंगे, लेकिन बीफ की बड़ी कंपनियां अपना काम करती रहेंगी। मतलब यह कि छोटे कारोबारियों की छुट्टी हो जाएगी और कारपोरेट ज़्यादा मुनाफा कमा सकेंगे। .....आगे पढ़ें इस लिंक पर
https://t.co/dU1xESzHGL #BJP #SuperYogi #YogiAdityanath #YogiSarkar #UP #Slaughterhouse

रविवार, 30 जून 2013

इजरायल को दुनिया के नक्शे से मिटा दिया था मोदी की प्रोपेगैण्डा कम्पनी ने

इजरायल को दुनिया के नक्शे से मिटा दिया था मोदी की प्रोपेगैण्डा कम्पनी ने


ऐपको वर्ल्डवाइड पूरी दुनिया में युद्ध को बढ़ावा देने का काम करती है। इसके पास ऐसे हज़ारों लोग काम करते हैं जो युद्ध को बढ़ावा देते हैं। इस कम्पनी के मुख्य उद्देश्यों में हथियारों की अधिक से अधिक बिक्री करवाना शामिल है क्योंकि हथियार लॉबी के बड़े खिलाड़ियों के लिये यह काम करते हैं। यह श्रीलंका की सरकार के साथ भी है और इजरायली खुफिया एजेन्सी मोसाद के ज़रिये तमिल आतंकवादियों को भी ट्रेनिंग दिलवाती है। दोनों को जो हथियार मिलते हैं वे सब एप्को वर्ल्डवाइड के मुवक्किलों के कारखानों में ही बनते हैं। यहूदीवाद के समर्थक बहुत सारे संगठन ऐपको वर्ल्डवाइड के सहयोगी हैं और उसके साथ व्यापारिक रिश्ते रखते हैं। ऐपको वर्ल्डवाइड का हेरिटेज फाउन्डेशनफ्रन्टियर ऑफ फ्रीडमजेविश पॉलिसी सेन्टरआदि से बहुत ही करीबी सम्बन्ध हैं। इराक और इरान पर अमरीकी नीतियों पर ऐपको वर्ल्डवाइड का भारी असर है। अमरीका और यूरोप में इस्लाम को डरावना साबित करके ही इस कम्पनी ने इराक के युद्ध के पक्ष में माहौल बनाया था। उस दौर में अमरीकी राष्ट्रपति जार्ज बुश और ब्रिटिश प्रधानमन्त्री टोनी ब्लेयर को ऐपको वर्ल्डवाइड की मदद मिल रही थी। 
Read More

शनिवार, 15 जून 2013

अडवाणी हों या मोदी : क्या फर्क पड़ता है? | Hastakshep.com

श्री मोदी और श्री अडवाणी दोनों राजधर्म की कसौटी पर खरे नहीं उतरे। इसलिये इन पर से किसी पर भी विश्वास करना देश के संविधान के साथ धोखा करना है।
Read More on hastakshep.com
अडवाणी हों या मोदी : क्या फर्क पड़ता है? | Hastakshep.com

गुरुवार, 13 जून 2013

नागरिकों की हत्या करने वाले भाजपा की नजर में असली राष्ट्रप्रेमी हैं | Hastakshep.com

क्या अपराधी आईबी अफसर को प्रधानमन्त्री व भाजपा बचा पायेंगे ?
अपराधी को बचाने के लिये राजनितिक दलों में मात्र भारतीय जनता पार्टी आगे आयी है क्योंकि कुर्सी पर बैठे हुये अपराधियों की पैरोकारी में इसकी भूमिका हमेशा आगे रही है।
Read More on hastakshep.com
नागरिकों की हत्या करने वाले भाजपा की नजर में असली राष्ट्रप्रेमी हैं | Hastakshep.com

गुरुवार, 14 मार्च 2013

फिर ना बन जाये शेहला काण्ड! 3 दिन से लापता आरटीआई कार्यकर्ता


सात महीने में अखिलेश के उत्तम प्रदेश में हत्या- 273, अपहरण- 2680, लूट- 1812, बलात्कार- 1134, डकैती 483, साम्प्रदायिक दंगे- 9 का कीर्तिमान स्थापित करने वाली सरकार में यादव और आंकड़ों में अल्पसंख्यक मुस्लिम ही साजिश का शिकार बन रहे हैं।............read more
http://hastakshep.com/?p=30451

फिर ना बन जाये शेहला काण्ड! 3 दिन से लापता आरटीआई कार्यकर्ता

बुधवार, 13 मार्च 2013

तूफानों से आँख मिलाओ सैलाबों से हाथ मिलाओ

मार्क्स ने कहा था हम राजनीति के गुलामी से मुक्त हो सकते हैं पर आर्थिक गुलामी से मुक्त होने में हजारों वर्ष लग जायेंगे।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30445
तूफानों से आँख मिलाओ सैलाबों से हाथ मिलाओ

मंगलवार, 12 मार्च 2013

जस्टिस काटजू का आइडिया, हर कोई न घुस पाये पत्रकारिता के धंधे में !

इस आइडिया का विरोध होना तय माना जा रहा है क्योंकि पत्रकारिता के मूल्यों की रक्षा की बात करने वाले लोग इस तथ्य को रेखाँकित करते रहे हैं कि पत्रकारिता धंधा नहीं है, मिशन है। ऐसे में पत्रकारिता क्या है और खबरों का धंधा क्या है दोनों में अन्तर रेखांकित करने की जरूरत है। 
आगे पढ़ें .....
http://hastakshep.com/?p=30427
जस्टिस काटजू का आइडिया, हर कोई न घुस पाये पत्रकारिता के धंधे में !

प्राचीन काल से ही ब्राह्मण "स्व-हित-रक्षक-बाज़ार-व्यवस्था" के पोषक रहे हैं


जन्म से लेकर मृत्यु तक ही नहीं बल्कि मृत्यु के बहुत बाद तक अपने हित-साधन की व्यवस्था कर लेने के इस ब्राह्मणी कौशल पर शर्म तो आती ही है, गुस्सा भी आता है।,...................read more
http://hastakshep.com/?p=30404

प्राचीन काल से ही ब्राह्मण "स्व-हित-रक्षक-बाज़ार-व्यवस्था" के पोषक रहे हैं

कटाक्ष : दस साल के एक देशद्रोही की कहानी | Hastakshep.com

 मेरे पड़ौसी के बच्चे ने तीन शेरों की जगह एक शेर बना कर हमारे राष्ट्रीय चिह्न का अपमान किया है. पुलिस जो देश की जनता के लिए ज़रुरत पर कभी उपलब्ध नहीं होती वह तुरंत मौके पर पहुँची और बच्चे को गिरफ्तार कर राष्ट्रद्रोह का मुक़द्दमा लगाती हुई बोली..............read more
http://hastakshep.com/?p=24571
कटाक्ष : दस साल के एक देशद्रोही की कहानी | Hastakshep.com

जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण टेक्निकल एफआईआर हैं डीजीपी की नज़र में

 अगर मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव की चली (?) तो कुछ ही दिनों में प्रदेश में नया पुलिस महानिदेशक  तैनात होगा।......................read more
http://hastakshep.com/?p=30409
जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण टेक्निकल एफआईआर हैं डीजीपी की नज़र में

सोमवार, 11 मार्च 2013

मोदी की शिक्षा युवराज के काम आयी ? आज बाँटेंगे लॉलीपॉप (लैपटॉप)


राजा-सामन्तों के लगे दाग धोने की कवायद में सरकार आज जोर-शोर से छात्रों को लैपटॉप बाँटने जा रही है।...........read more
http://hastakshep.com/?p=30392

मोदी की शिक्षा युवराज के काम आयी ? आज बाँटेंगे लॉलीपॉप (लैपटॉप)

रविवार, 10 मार्च 2013

भगवा चादर ओढ़ने को बेकरार मुलायम सिंह का स्वागत है


जब उन्होंने कल्याण सिंह से दोस्ती की थी तभी हमने कहा था कल्याण सिंह का रास्ता नागपुर जाता है। …और अब स्वयं मुलायम सिंह ने घोषणा कर दी है कि वह नागपुर घराने की चौखट पर सजदा कर रहे हैं।......................read more
http://hastakshep.com/?p=30069

भगवा चादर ओढ़ने को बेकरार मुलायम सिंह का स्वागत है

History became a weapon, sometimes double-edged


The politicians started using History by misrepresenting or distorting the facts to establish their points........................read more
http://hastakshep.com/?p=30382

History became a weapon, sometimes double-edged

वसुंधरा से कम अपनों की बेवफाई से ज्यादा दुखी हैं तिवाड़ी

 भगवान, हिन्दुस्तान की राजनीति में जितने भी भ्रष्ट नेता हैं उनकी जमानत जब्त करा दे, यह प्रार्थना पत्र दूँगा। भगवान को ही नहीं उनके दर्शन करने आने वाले भक्तों से भी कहूँगा कि राजस्थान को बचाओ। राजस्थान को चारागाह समझ रखा है।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30386
वसुंधरा से कम अपनों की बेवफाई से ज्यादा दुखी हैं तिवाड़ी

भारत में राष्‍ट्रीय इंटरनेट रजिस्‍ट्री की शुरूआत

भारत में राष्‍ट्रीय इंटरनेट रजिस्‍ट्री की शुरूआत

गुरुवार, 7 मार्च 2013

क्रान्तिकारियों के प्रेरणास्रोत बने रहेंगे शावेज़


 उन्होंने अपने देश की जनता के साथ जो वायदे किये उनको काफी हद तक पूरा किया। क्रान्ति को पार्टी के ऑफिस से निकालकर आम जनता का औजार बनाया और क्रान्तिकारी विचारों के पारदर्शी और अबाधित बहस-मुबाहिसे की अपने देश में स्वस्थ परम्परा डाली। शावेज़ ने समाजवाद, क्रान्ति और लोकतन्त्र के बीच में नये किस्म के पारदर्शी सामाजिक-राजनीतिक दर्शन और विश्वदृष्टिकोण को जन्म दिया।..............read  more
http://hastakshep.com/?p=30283

क्रान्तिकारियों के प्रेरणास्रोत बने रहेंगे शावेज़